what-is-software-in-hindi

What is Software In Hindi

Computer Software के साथ हार्डवेयर का एक टुकड़ा मात्र है। इसलिए Software को Computer System के दिल के रूप में जाना जाता है। लगभग हर इलेक्ट्रॉनिक उपकरण Software की मदद से काम करता है। Software के बिना, आप Computer System के साथ इंटरैक्ट नहीं कर सकते। यह उपयोगकर्ताओं और Computer हार्डवेयर के बीच एक interface है। Software एक सामान्य डिजिटल घड़ी भी चलाता है।

यह Computer System में प्रत्येक कार्य को करने के लिए जिम्मेदार है। यह Computer में छोटे से बड़े कार्यों को पूरा करने के निर्देश देने के लिए निर्देशों और कार्यक्रमों का एक समूह है। विशेषज्ञों का कहना है कि हार्डवेयर और Software किसी भी Computer System के लिए शरीर और आत्मा की तरह काम करते हैं। Software को छूना और महसूस करना असंभव है क्योंकि यह Computer के अंदर रखा गया एक Computer कोड है। आजकल, उत्पादकता Software, मल्टीमीडिया Software, ग्राफिक Software, और कई अन्य उद्देश्यों के लिए लाखों Software ऑनलाइन उपलब्ध हैं।

यदि आप किसी इलेक्ट्रॉनिक System को चलाना चाहते हैं, तो आपको Software इंस्टॉल करना होगा। ध्यान रखें कि मैं इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों जैसे Computer, टीवी, मोबाइल, वाशिंग मशीन, स्मार्टवॉच और कई अन्य के बारे में बात कर रहा हूं। Software के बिना किसी भी इलेक्ट्रॉनिक उपकरण को चलाना असंभव है। Software के साथ, आप किसी भी हार्डवेयर पर पूर्ण नियंत्रण रख सकते हैं।

दुनिया में आमतौर पर दो तरह के Software होते हैं। पहला System Software के रूप में जाना जाता है, और दूसरा Application Software है। इंजीनियरों ने इस Software को दो श्रेणियों में वर्गीकृत किया क्योंकि एक ही Software से सब कुछ करना असंभव है। आइए अब इस Software के बारे में विस्तार से चर्चा करते हैं।

System Software

System Software का इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस के सभी हार्डवेयर घटकों के साथ सीधा संपर्क होता है। इसका उपयोग हार्डवेयर और Application Software के बीच एक मध्यवर्ती के रूप में किया जाता है। System Software को कुछ श्रेणियों में बांटा गया है:-

Operating System

यह इलेक्ट्रॉनिक्स डिवाइस के लिए प्रमुख Software है। यह उपयोगकर्ताओं और हार्डवेयर के बीच एक मध्यवर्ती के रूप में कार्य करता है। इसका इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के प्रत्येक हार्डवेयर पर पूर्ण नियंत्रण होता है और बैकएंड में विभिन्न कार्य करता है। उपयोगकर्ता Operating System को कोई भी ऑपरेशन करने के लिए कमांड देते हैं। दुनिया के कुछ प्रमुख Operating System हैं: –

  • विंडोज ओएस (Windows OS)
  • मैक ओ एस (Mac OS)
  • लिनक्स (Linux)
  • उबंटू (UBUNTU)
  • एंड्रॉयड (Android)

Utility Program

System को ऑपरेट करने के बाद कुछ Software को सर्विस प्रोग्राम के नाम से भी जाना जाता है। इस Software के हार्डवेयर से कोई सीधा संपर्क नहीं है। इसके अलावा, हमने एक Operating System में देखा है। उपयोगिता कार्यक्रमों के कुछ उदाहरण जैसे डिस्क डीफ़्रेग्मेंटर, एंटी वायरस, और बहुत कुछ।

Device Driver

ड्राइवर किसी भी System से जुड़े इनपुट और आउटपुट डिवाइस की कार्यक्षमता को संचालित करने के लिए उपयोग किए जाने वाले विशेष Software हैं। ड्राइवरों के बिना, इनपुट और आउटपुट डिवाइस के साथ काम करना असंभव है। इन Software के कुछ उदाहरण ऑडियो ड्राइवर, ग्राफिक्स ड्राइवर, मदरबोर्ड ड्राइवर हैं।

Application Software

Application Software वे Software होते हैं जो सीधे उपयोगकर्ताओं के नियंत्रण में होते हैं। इसलिए इसे एंड-यूजर Software के नाम से भी जाना जाता है। सामान्य तौर पर, भाषा को ऐप्स के रूप में भी जाना जाता है। Application Software कुछ विशेष उद्देश्यों के लिए विकसित किया गया है। Application Software के कुछ उप-भाग हैं: –

Basic Application

इस Application Software को general-purpose software के रूप में भी जाना जाता है। इस Software का उद्देश्य हमारे दिन-प्रतिदिन के कार्यों को पूरा करने में हमारी मदद करना है। जैसा कि आपने Computer basics कोर्स के बारे में सुना होगा। उस पाठ्यक्रम में, प्रशिक्षक इस Software को शामिल करता है। कुछ प्रमुख बुनियादी Application Software हैं: –

  • वर्ड प्रोसेसिंग प्रोग्राम (Word Processing Programs)
  • मल्टीमीडिया कार्यक्रम (Multimedia Programs)
  • डीटीपी कार्यक्रम (DTP Programs)
  • स्प्रेडशीट कार्यक्रम (Spreadsheet Programs)
  • प्रस्तुति कार्यक्रम (Presentation Programs)
  • ग्राफिक्स Application (Graphics Application)
  • वेब डिजाइन आवेदन (Web Design Application)

Specialized Applications

विशिष्ट Software वे Software हैं जिनका उपयोग विशेष उद्देश्यों के लिए किया जाता है। इसलिए इस Software को स्पेशल परपज Software भी कहा जाता है। इस Software का उपयोग कुछ विशेष कार्यों को करने के लिए किया जाता है जो उपयोगिता Software द्वारा नहीं किए जा सकते हैं। अकाउंटिंग, पेरोल System आदि कुछ विशेष कार्य हैं। यहां कुछ विशेष Application दिए गए हैं: –

  • लेखांकन Software (Accounting Software)
  • बिलिंग Software (Billing Software)
  • रिपोर्ट कार्ड जेनरेटर (Report Card Generator)
  • आरक्षण प्रणाली (Reservation System)
  • पेरोल प्रबंधन प्रणाली (Payroll Management System)

How to Create Software in Hindi

Software बनाना कोई आसान काम नहीं है। यदि आप एक नौसिखिया हैं, तो स्क्रैच से Software बनाना काफी मुश्किल हो सकता है। आपको programming languages का मजबूत ज्ञान और बहुत सारा धैर्य रखने की आवश्यकता है। जब आप Software के लिए कोड लिखते हैं, तो आपको पर्याप्त धैर्य रखने की आवश्यकता होती है क्योंकि आपके पास बहुत सारे बग हो सकते हैं, और इन त्रुटियों को ठीक करने में बहुत समय लगता है। यदि आपके पास ये दोनों आवश्यक कौशल हैं, तो आप एक पेशेवर Software डेवलपर बन सकते हैं। Software विकास के लिए कुछ बेहतरीन programming languages Java, C++, Python आदि हैं।

Computer Software कहाँ से प्राप्त करें?

आप या तो Software ऑनलाइन या ऑफलाइन खरीद सकते हैं। Application सेवा प्रदाता Software प्रदान करते हैं। आप Software प्रदाताओं की आधिकारिक साइट से Software खरीद सकते हैं। वे एक सुरक्षित डाउनलोड लिंक प्रदान करते हैं जहाँ आप अपने Software की एक प्रति आसानी से प्राप्त कर सकते हैं। यदि आप Software को offline खरीदना चाहते हैं, तो आप Software को डीवीडी फॉर्म में खरीद सकते हैं।

क्या मुफ्त में Software डाउनलोड (download) करना संभव (possible) है?

हां, Software को मुफ्त में डाउनलोड करना संभव है। ऑनलाइन लाखों Software उपलब्ध हैं, और आप उन्हें किसी भी विश्वसनीय वेबसाइट से डाउनलोड कर सकते हैं। यहां तक ​​कि आप paid softwares की पायरेटेड कॉपी (pirated copy) भी मुफ्त में प्राप्त कर सकते हैं। लेकिन मैं चाहूंगा कि आप paid software खरीदने की अनुशंसा करें।

क्या यह सच है कि कुछ Software, Computer के लिए खतरनाक (dangerous ) हैं?

हां, कुछ Software खतरनाक हैं, जो यूजर्स के लिए फ्री में उपलब्ध हैं। सशुल्क Software के कुछ क्रैक किए गए संस्करण हैकर्स द्वारा स्वतंत्र रूप से उपलब्ध हैं। इसलिए इस बात की संभावना हमेशा बनी रहती है कि हैकर इस Software की मदद से आपके System पर नियंत्रण पा सकता है। यह अत्यधिक अनुशंसा की जाती है कि आपको विश्वसनीय स्रोतों से Software खरीदना चाहिए।

Software की maintenance कैसे करें?

नियमित अंतराल पर अपने Software का रखरखाव करना काफी महत्वपूर्ण है। यह System की सुरक्षा में मदद करता है। यह Software की कार्यक्षमता में सुधार करने, बग्स को ठीक करने, हैकर्स और वायरस से सुरक्षा में सहायक है।

Software के maintenance के लिए steps 

  • Software को उसके newest version में अपडेट (Update)करें
  • Antivirus (एंटीवायरस) Software Install करें
  • अगर आपको कोई मुश्किल आती है, तो विशेषज्ञ (expert) से मदद मांगें।
  • Software का उपयोग करने के लिए दिए गए निर्देश (instructions) का पालन करें
  • Third-party tools से Software को activate करने का प्रयास न करें।

Software license क्या है? 

Software लाइसेंस एक दस्तावेज है जो लगभग हर Software के साथ आता है, चाहे भुगतान किया गया हो या भुगतान किया गया हो। यह एक टेक्स्ट दस्तावेज़ है जिसमें Software के नियम और शर्तें, उपयोगकर्ता मार्गदर्शिका और अस्वीकरण शामिल हैं। इस लाइसेंस में एंड-यूजर्स और Software डेवलपर के बीच लिखित नियम और शर्तें होती हैं। यहाँ कुछ प्रकार के Software लाइसेंस दिए गए हैं।

Open Source: इन लाइसेंस के तहत आने वाले Software यूजर्स के लिए फ्री होते हैं। उपयोगकर्ताओं को इन Software का उपयोग करने के लिए कुछ भी भुगतान करने की आवश्यकता नहीं है। आप इस Software का उपयोग केवल व्यक्तिगत उपयोग के लिए ही कर सकते हैं। लेकिन व्यावसायिक उपयोग के लिए कुछ मुफ्त Software भी। लेकिन उपयोगकर्ता इस Software के स्रोत कोड तक नहीं पहुंच सकते हैं।

Proprietary License: इन लाइसेंसों के अंतर्गत आने वाले Software भुगतान किए गए Software हैं, और उपयोगकर्ता को इस Software का उपयोग करने के लिए मासिक शुल्क खरीदने या भुगतान करने की आवश्यकता होती है। कुछ मामलों में, उपयोगकर्ताओं को उनकी सदस्यता के आधार पर सीमित सुविधाओं तक पहुंचने की अनुमति है। उपयोगकर्ता इस Software के स्रोत कोड तक भी नहीं पहुंच पा रहे हैं।

ओपन सोर्स: यह Software किसी के लिए भी स्वतंत्र रूप से उपलब्ध है और उपयोगकर्ताओं को सोर्स कोड तक पहुंच की अनुमति देता है। इसका मतलब है कि उपयोगकर्ता अपनी आवश्यकताओं के अनुसार इसे अनुकूलित करने के लिए Software के स्रोत कोड को आसानी से संशोधित कर सकते हैं।

Conclusion

अब हमारे पास Software, उसके प्रकार, उसके उपयोग और बहुत कुछ की पूरी जानकारी है। जब भी कोई आपसे Software के बारे में पूछेगा, तो आपके पास इसका ठोस जवाब होगा। मुझे आशा है कि आपको यह ब्लॉग पोस्ट अच्छी लगी होगी, और यह आपके लिए काफी जानकारीपूर्ण है। अगर आपको अभी भी Software के बारे में कोई संदेह है, तो आप हमसे कभी भी पूछ सकते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top